Difference Between Unit Plan and Lesson Plan in Hindi

Difference Between Unit Plan and Lesson Plan in Hindi

(इकाई योजना और पाठ योजना में अंतर)

दोस्तों हम इकाई योजना और पाठ योजना में अंतर करने से पहले थोडा यह जान लेने का प्रयास करेंगे कि यह

  • योजना क्या होती है?
  • योजना क्यों बनाई जाती हैं ?
  • योजना कितने प्रकार की होती हैं ?

दोस्तों हम अगर बात करे हमारे जीवन की तो हम कोई भी कार्य करने से पूर्व कोई न कोई योजना तो बनाते ही है, ताकि वो कार्य सफल हो सके | और योजना को किसी भी कार्य सफल होने में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता हैं |

कार्य की योजना बनाने से न सिर्फ कार्य सफलतापूर्वक संपन्न होता है बल्कि वह कार्य अपने अधिकतम उद्देश्यों को भी प्राप्त कर लेता है | और साथ ही यह व्यक्ति के अमूल्य समय और श्रम की भी बहुत हद तक बचत करती है |

बस शिक्षण प्रक्रिया में भी यह कुछ इसी प्रकार महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं | ऐसे शिक्षक जो योजना बनाकर शिक्षण कार्य कराते है, वे अपने शिक्षण में सफल तो होते ही है, लेकिन अपने उद्देश्यों की प्राप्ति कर लेते है |

बात करे अगर शिक्षण के संदर्भ में तो एक शिक्षक को निम्न प्रकार की योजनाये बनानी होती है-

  1. वार्षिक योजना
  2. इकाई योजना
  3. दैनिक पाठ योजना

 

1. वार्षिक योजना:-

इस प्रकार की योजना के अंतर्गत शिक्षक कक्षा के आकार और विषय विशेष के अनुरूप, आदि के संदर्भ में पुरे सत्र के दौरान उसे क्या करना है? कैसे करना है ? आदि के बारे में सम्पूर्ण रूप से अपना दृष्टिकोण विकसित करने का प्रयास करता है | इस वार्षिक योजना में हमे एक सत्रीय कार्यक्रम की आवश्यकता होती है | जिससे शिक्षक अपने शिक्षण-अधिगम कार्यक्रम को, पुरे सत्र में उपलब्ध कुल कार्यदिवस, और कुल कालांशों के संदर्भ में, समय-सारणी के रूप में निश्चित करता है |

 

2. इकाई योजना:-

इकाई योजना वर्तमान पाठ्यक्रम के विभाजन द्वारा पुरे सत्र के लिए अनुदेशन (निर्देशन) सम्बन्धी कार्य के लिए प्रयुक्त होती है | जिसे सुपरिभाषित तथा अर्थयुक्त इकाइयों में प्रयुक्त क्या जाता हैं | “इकाई” पद को विभिन रूपों में परिभाषित किया गया है-

  • सी वी गुड के अनुसार:- इकाई को शिक्षक के नेत्रत्व में छात्रों के एक समूह द्वारा सहयोगपूर्ण ढंग से विकसित, किसी केन्द्रीय समस्या के इर्द-गिर्द, विभिन्न क्रियाओ, अनुभवों तथा अधिगम के प्रकारों के संघठन के रूप में परिभाषित किया जाता है |
  • एच सी मोरिसन के अनुसार:- इकाई किसी अर्थपूर्ण क्रिया के बारे में एक व्यापक योजना से सम्बंधित होती है | जिसे इस रूप में तैयार किया जाता है कि शिक्षक अपने उद्देश्यों को प्राप्त कर सके जिसमे महत्वपूर्ण शैक्षिक अनुभवों को प्रदान किया जा सके और उपयुक्त व्यावहारिक परिवर्तन की प्राप्ति हो सके |

इकाई योजना का प्रारूप (Unit Plan Format in Hindi)

इकाई योजना का प्रारूप (Unit Plan Format in Hindi)

 

3. पाठ योजना:-

पाठ योजना इकाई योजना का एक उपागम है, जिसमे शिक्षक एक विशेष समय चक्र से सम्बंधित शिक्षण योजना तैयार करता है | पाठ योजना ऐसे शिक्षको के लिए और भी महत्वपूर्ण हो जाती है जो शिक्षण के क्षेत्र में नए है | पाठ योजना ऐसी कोई रूपरेखा नहीं है जिसका शिक्षक हो प्रत्येक स्थिति में पालन करना पड़े |

पाठ योजना तो एक पथ-प्रदर्शक के रूप में होती है, जो कक्षा की क्रियाओ के अनुक्रम का अभिसुचक है, महत्वपूर्ण बिंदुओ की सूची है और वांछनीय क्रियाओ और पद्धतियों से सम्बंधित ऐसे सुझाव है जिन्हें कक्षा में काम में लाया जा सकता है | शिक्षक को इसमें आवश्यकता अनुसार परिवर्तन करने का अधिकार होता है |

पाठ योजना शिक्षक तथा छात्रों के सीखने के कार्यों की एक लिखित योजना होती है |

पाठ योजना का प्रारूप (Lesson Plan Format in Hindi)

पाठ योजना का प्रारूप (Lesson Plan Format in Hindi)

पाठ योजना का प्रारूप (Lesson Plan Format in Hindi)

 

Difference Between Lesson Plan and Unit Plan in Hindi

(पाठ योजना और इकाई योजना में अंतर)

1. इकाई योजना इकाइयों के संदर्भ में तैयार की जाती है जबकि पाठ योजना उप-इकाइयों के संदर्भ में तैयार की जाती है |

2. ईकाई योजना सैद्धांतिक पक्ष की ओर संकेत करती है जबकि पाठ योजना कक्षा-कक्ष में पढाये जाने वाले पाठ के व्यावहारिक पक्ष की ओर संकेत करती है |

3. ईकाई योजना के निर्माण में शिक्षक छात्रों का सहयोग ले सकता है जबकि पाठ योजना में ऐसा संभव नहीं है |

4. ईकाई योजना पाठ्यक्रम की विषयवस्तु के समग्र और पूर्ण उप-विभाजन को प्रस्तुत करती है जबकि पाठ योजना पाठ्यक्रम की विषयवस्तु के एक भाग को प्रस्तुत करती है |

5. इकाइयों की विषयवस्तु का संगठन हमेशा केन्द्रीय समस्या के आस-पास होता है जबकि पाठ योजना की विषयवस्तु हमेशा विशिष्ट प्रकरण के संदर्भ में तैयार की जाती है |

6. ईकाई योजना की विषयवस्तु निरंतरता और व्यापकता को प्रदर्शित करती है जबकि पाठ योजना की विषयवस्तु के एकल प्रकरण को प्रदर्शित करती है |

7. इकाई योजना में सम्पूर्ण इकाई को कितने शीर्षकों, कालाशों तथा दिनों में पढ़ाया जाएगा, क्या-क्या सहायक सामग्री प्रयुक्त की जाएगी, अध्यापक क्रियाएं, छात्र क्रियाएँ क्या होगी एवं मूल्यांकन और शिक्षण विधि कौन-कौन सी प्रयुक्त की जाएगी आदि बातो का मुख्यतया ध्यान रखा जाता है जबकि पाठ योजना में केवल 30 से 40 मिनट के कालांश के शिक्षण की व्यवस्था की जाती है।

8. इकाई योजना का स्वरूप विषय वस्तु की प्रकृति तथा शिक्षण के उद्देश्यों पर आधारित होता है जबकि पाठ योजना का स्वरूप शीर्षक पर आधारित होता है।

9. इकाई योजना से किसी भी कौशल का विकास संभव नहीं है जबकि पाठ योजना से शिक्षण कौशल का विकास संभव है।

10. इकाई योजना वार्षिक योजना के उपरांत बनाई जाती है जबकि पाठ योजना इकाई योजन एके उपरांत बनाई जाती है |

यहाँ आप Lesson Plans, Papers, Notes आदि हमारे साथ टेलीग्राम पर शेयर कर सकते है | इससे आप घर बैठे अन्य लोगों की भी मदद कर सकेंगे |
Share Your File on Telegram
Join Our Telegram Channel

Leave a Comment