जामुन का पेड़ – 11th Class Hindi Lesson Plan

जामुन का पेड़ – 11th Class Hindi Lesson Plan

संक्षिप्त विवरण (Brief Description)

Sr. No.HeadingsDetails
1पाठ योजना प्रकार (Lesson Plan Type)दैनिक पाठ योजना (Daily Lesson Plan)
2विषय (Subject) हिंदी (Hindi)
3उपविषय (Sub-Subject)गद्य (Gadya)
4प्रकरण (Topic)जामुन का पेड़ (Jamun Ka Ped)
5कक्षा (Class)11th
6समयावधि (Time Duration)35 Minute
7उपयोगी (Useful for)B.ed, Deled, BSTC, BTC, Nios Deled

नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए हिंदी विषय की कक्षा 11 की पाठ योजना लेकर आये है जो कि हिंदी के पद्य भाग से ली गयी है | इस हिंदी लेसन प्लान (Hindi Lesson Plan) का प्रकरण है जामुन का पेड़ (Jamun Ka Ped) |

 

इस जामुन का पेड़ (Jamun Ka Ped) के हिंदी लेसन प्लान (Hindi Lesson Plan) में सबसे पहले हम शिक्षण उद्देश्य की बात करेंगे |

 

शिक्षणउद्देश्य :-

1. ज्ञानात्मक

  • छात्रों को कार्यालयी तौर-तरीकों की जानकारी देना।
  • मनुष्य-मात्र के स्वभाव एवं व्यवहार की जानकारी देना।
  • पाठ में वर्णित मुख्य बिन्दुओं को आत्मसात करना।
  • पाठ की विषयवस्तु को पूर्व में सुनी हुई घटना या किसी लेख से संबद्ध करना।
  • नए शब्दों के अर्थ समझकर अपने शब्द- भंडार में वृद्धि करना।
  • साहित्य के गद्य –विधा (हास्य-व्यंग्य कथा) की जानकारी देना।
  • नैतिक मूल्यों की ओर प्रेरित करना।
  • छात्रों को एक जागरुक और सक्रिय नागरिक बनने की प्रेरणा देना।

 

2. कौशलात्मक

  • स्वयं हास्य-व्यंग्य कथा लिखने की योग्यता का विकास करना।
  • कार्यलयीन तौर-तरीकों में बदलाव लाने के विभिन्न उपायों का व्यावहारिक ज्ञान प्राप्त करना।

 

3. बोधात्मक

  • लेख की मुख्य विषयवस्तु को समझने का प्रयास करना।
  • रचनाकार के उद्देश्य को स्पष्ट करना।
  • लेख में आए स्मरण रखने योग्य स्थलों का चुनाव करना।
  • सरकारी कार्यालयों में व्याप्त अनैतिक कार्य-शैली के बारे में सजग होना।

 

4. प्रयोगात्मक

  • लेख को अपने दैनिक जीवन के संदर्भ में जोड़कर देखना।
  • लेख से मिली शिक्षाओं पर अमल करना ।
  • पाठ का सारांश अपने शब्दों में लिखना।
  • कहानी को एकांकी के रूप में मंचस्थ करना।

 

शिक्षण सहायक सामग्री:-

  • चाक , डस्टर आदि।
  • पावर प्वाइंट के द्वारा पाठ की प्रस्तुति।

 

पूर्व ज्ञान:-

  • ‘ सरकारी दफ़्तरों की कार्य-शैली ’ के बारे में थोड़ा ज्ञान है।
  • देश की जीवन – शैली के बारे में ज्ञान है।
  • हास्य-व्यंग्य शैली का नाम सुना है।
  • साहित्यिक-भाषा की थोड़ी-बहुत जानकारी है।
  • मानवीय स्वभाव की जानकारी है।

 

प्रस्तावनाप्रश्न :-

  1. बच्चो! क्या आपके आसपास ऐसे लोग रहते हैं जो सरकारी कार्यालयों में कार्यरत हैं?
  2. क्या आप सरकारी कार्यालयों की कार्य-शैली के बारे में जानते हैं?
  3. हमारे देश के लोगों की जीवन – शैली कैसी है और कैसी होनी चाहिए?
  4. मनुष्य की स्वभावगत विशेषताएँ बताइए।

 

उद्देश्य कथन :- बच्चो! आज हम लेखक ‘ कृश्न चंदर ’ के द्वारा रचित  हास्य-व्यंग्य कथा शैली की रचना ‘ जामुन का पेड़ ’ का अध्ययन करेंगे।

 

जामुन का पेड़ – 11th Class Hindi Lesson Plan की इकाइयाँ

प्रथम अन्विति ( रात को………………………हटाया जाएगा )

  • झक्कड़ के कारण सेक्रेटेरिएट के लॉन में पेड़ का गिरना।
  • पेड़ के नीचे किसी आदमी का दबा होना।
  • भीड़ का इकट्ठा होना।
  • माली, चपरासी, क्लर्क आदि का अपना-अपना मत होना।
  • पेड़ हटाने को लेकर लंबी बहस का चलना। आधा दिन की समाप्ति।

 

द्वितीय अन्विति :- ( दूसरे दिन…………………..वहाँ से हट गया )

  • दूसरे दिन कृषि विभाग के द्‍वारा पेड़ हटाने से मना करना।
  • शाम को पेड़ हटाने का काम हॉर्टीकल्चर डिपार्टमेंट के हवाले होना ।
  • रात को दबे हुए आदमे को माली के द्‍वारा खाना खिलाना।

 

तृतीय अन्विति :-  ( तीसरे दिन…………………..मगर आदमी मर जाएगा )

  • हॉर्टीकल्चर विभाग के द्‍वारा पेड़ काटने से मना करना।
  • फ़ाइल को मिडिकल डिपार्टमेंट भेजा जाना।

 

चतुर्थ अन्विति :-  ( रात को माली ने…………………..और अर्जेंट लिखा है )

  • दबे हुआ आदमी शायर है – जान पड़ना।
  • साहित्यकारों और कल्चरल डिपार्टमेंट के लोगों की सहनुभूति।

 

पंचम अन्विति :-    ( शाम को माली ने……………….पूर्ण हो चुकी थी )

  • फ़ॉरेस्ट डिपार्टमेंट के लोगों का आरी आदि लेकर पेड़ काटने आना।
  • प्रधानमंत्री का पेड़ काटने का आदेश मिलना।
  • फ़ाइल के साथ-साथ उस आदमी के जीवन की फ़ाइल भी पूर्ण होना।

 

इन्हें भी देखे:-

 

शिक्षण विधि :-

क्रमांकअध्यापकक्रियाछात्रक्रिया
.पाठ का सारांश :-

‘ जामुन का पेड़ ’ कृश्न चंदर की एक प्रसिद्ध हास्य-व्यंग्य कथा है। हास्य-व्यंग्य के लिए चीज़ों को अनुपात से ज़्यादा फैला-फुलाकर दिखलाने की परिपाटी पुरानी है और यह कहानी भी उसका अनुपालन करती है। इसलिए यहाँ घटनाएँ अतिशयोक्तिपूर्ण और अविश्वनीय जान पडएं, तो कोई हैरत नहीं।

विश्वसनीयता ऐसी रचनाओं के मूल्यांकन की कसौटी नहीं हो सकती। प्रस्तुत पाठ में हँसते-ह~म्साते ही हमारे भीतर इस बात की समझ पैदा होती है कि कार्यालयी तौर-तरीकों में पाया जाने वाला विस्तार कितना निरर्थक और पदानुक्रम कितना हास्यास्पद है। बात यहीं तक नहीं रहती। इस व्यवस्था के संवेदनशून्य एवं अमानवीय होने का पक्षा भी हमारे सामने आता है।

 

कहानी को ध्यानपूर्वक सुनना और समझने का प्रयास करना। नायक के चरित्र पर तथा सामाजिक बुराई पर अपने विचार प्रस्तुत करना।
. लेखकपरिचय :-

जन्म :   सन् १९१४,पंजाब के वज़ीराबाद गाँव (ज़िला – गुजरांकलां)

प्रमुख रचनाएँ :

एक गिरज़ा-ए-खंदक, यूकेलिप्टस की डाली (कहानी   संग्रह); शिकस्त, ज़रगाँव की रानी, सड़क वापस जाती है, आसमान रौशन है, एक गधे की आत्मकथा, अन्नदाता, हम वहशी हैं, जब खेत जागे, बावन पती, एक वायलिन समंदर के किनारे, कागज़ की नाव, मेरी यादों के किनारे         (उपन्यास)

सम्मान :  साहित्य अकादमी सहित बहुत से पुरस्कार

निधन :             सन् १९७७

 

लेखक के बारे में आवश्यक जानकारियाँ अपनी अभ्यास –पुस्तिका में लिखना।
.शिक्षक के द्वारा पाठ का उच्च स्वर में पठन करना।उच्चारण एवं पठन – शैली को ध्यान से सुनना।
.पाठ के अवतरणों की व्याख्या करना।पाठ को हॄदयंगम करने की क्षमता को विकसित करने के लिए पाठ को ध्यान से सुनना। पाठ से संबधित अपनी जिज्ञासाओं का निराकरण करना।
.कठिन शब्दों के अर्थ :-

झक्कड़                                 – आँधी

रुआँसा                               –  रोनी सूरत

ता़ज्जुब                               –  आश्चर्य

हॉर्टीकल्चर                         – उद्‍यान कृषि

एग्रीकल्चर                          – कृषि

तगाफ़ुल                             – विलंब, देर, उपेक्षा

 

छात्रों द्वारा अपनी अभ्यास- पुस्तिका में लिखना।

. छात्रों द्वारा पठित अनुच्छेदों में होने वाले उच्चारण संबधी अशुद्धियों को दूर करना।छात्रों द्वारा पठन।
. पाठ में आए व्याकरण का व्यावहारिक ज्ञान प्रदान करना।

·       अंग्रेज़ी शब्दों के हिन्दी प्रयोग

·       संयुक्त वाक्यों का सरल वाक्यों में रुपांतरण

व्याकरण के इन अंगों के नियम, प्रयोग एवं उदाहरण को अभ्यास-पुस्तिका में लिखना।

 

गृहकार्य :-

  • पाठ का सही उच्चारण के साथ उच्च स्वर मेँ पठन करना।
  • पाठ के प्रश्न – अभ्यास करना।
  • लेख की प्रमुख घटनाओं की संक्षेप में सूची तैयार करना।
  • पाठ में आए कठिन शब्दों का अपने वाक्यों में प्रयोग करना।

 

परियोजना कार्य :-

  • ‘ कृश्न चंदर ’ की पुस्तकें पुस्तकालय आदि से संग्रह कर पढ़ना।
  • सरकारी कार्यालय की कार्य-शैली पर आधारित कोई लेख लिखना।
  • मशहूर टी.वी. धारावाहिक ‘ ऑफ़िस-ऑफ़िस ’ देखना।

 

मूल्यांकन :-

निम्न विधियों से मूल्यांकन किया जाएगा :-

  • पाठ्य-पुस्तक के बोधात्मक प्रश्न—
    • दबा हुआ आदमी एक कवि है, यह बात कैसे पता चली और इस जानकारी का फ़ाइल की यात्रा पर क्या असर पड़ा ?
    • कृषि विभाग वालों ने मामले को हॉर्टीकल्चर विभाग को सौंपने की पीछे क्या तर्क दिए ?
    • इस पाठ से सरकारी कार्यालयों के कार्य के बारे में क्या जानकारी मिलती है ?
    • इस कहानी के अन्य दो शीर्षक सुझाइए।
  • इकाई परीक्षाएँ
  • गृह – कार्य
  • परियोजना – कार्य

यहाँ आप Lesson Plans, Papers, Notes आदि हमारे साथ टेलीग्राम पर शेयर कर सकते है | इससे आप घर बैठे अन्य लोगों की भी मदद कर सकेंगे |
Share Your File on Telegram
Join Our Telegram Channel

Leave a Comment